प्रिय दोस्तों! हमारा उद्देश्य आपके लिए किसी भी पाठ्य को सरलतम रूप देकर प्रस्तुत करना है, हम इसको बेहतर बनाने पर कार्य कर रहे है, हम आपके धैर्य की प्रशंसा करते है| मुक्त ज्ञानकोष, वेब स्रोतों और उन सभी पाठ्य पुस्तकों का मैं धन्यवाद देना चाहता हूँ, जहाँ से जानकारी प्राप्त कर इस लेख को लिखने में सहायता हुई है | धन्यवाद!

Wednesday, December 16, 2020

सूरदास का जीवन-परिचय | Biography of Soordas | Soordas | Surdas | सूरदास

सूरदास का जीवन-परिचय | Biography of Soordas | Soordas | Surdas | सूरदास




महाकवि सूरदास जी का जन्म का कोई प्रमाणिक तथ्य नहीं है, लेकिन सूरदास जी का जन्म १४७८ ई० में मथुरा - आगरा मार्ग में स्थित रुनकता गाँव में माना जाता है,

लेकिन बहुत से विद्वानों में अभी भी मतभेद है जैसे रामचंद्र शुक्ल के अनुसार आपका जन्म संवत १५४० वि० और मृत्यु १६२० ई० के आसपास मन जाता है |

आप के पिताजी रामदास बैरागी जी खुद एक प्रसिद्ध गायक थे, और बचपन में आप गौघाट पर बैठ कर अपने पिता के गीत गुनगुनाते थे, बाद में आपके गुरू श्री बल्लभाचार्य के आदेश से अपने कृष्ण भक्ति के पद और गीत गाया|

आप जन्म से अंधे थे या नहीं इसमें भी कोई पुख्ता सबूत नहीं है, कुछ विद्वानों का कहना है कोई भी बिना रंग और स्वरुप देखे इतना अच्छा गीत और सृंगार गीत कैसे लिख सकता है |

सूरदास जी की मृत्यु १५८३ ई० में हुई थी |

आपकी प्रसिद्ध रचना जो हमने up बोर्ड पाठ्यक्रम में पढ़ा था, सूरसागर, साहित्य लहरी,  सूर की सारावली आदि रचनाये मणि जाती है |

मुक्त ज्ञानकोष, वेब स्रोतों और उन सभी पाठ्य पुस्तकों का मैं धन्यवाद देना चाहता हूँ, जहाँ से जानकारी प्राप्त कर इस लेख को लिखने में सहायता हुई है |


हमारे इस पोस्ट को पढ़ने के लिए हम आपका आभार व्यक्त करते है | इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा Facebook, Whatsapp जैसे सोशल मिडिया पर जरूर शेयर करें | धन्यवाद  !!!


www.poemgazalshayari.in

No comments:

Post a Comment

BSNL Update: बीएसएनएल और एलन मस्क की स्टारलिंक साझेदारी

 बीएसएनएल और एलन मस्क की स्टारलिंक साझेदारी भारत का दूरसंचार परिदृश्य निकट भविष्य में एक बड़े बदलाव के कगार पर हो सकता है। लोगों की  नाराजगी...