प्रिय पाठकों! हमारा उद्देश्य आपके लिए किसी भी पाठ्य को सरलतम रूप देकर प्रस्तुत करना है, हम इसको बेहतर बनाने पर कार्य कर रहे है, हम आपके धैर्य की प्रशंसा करते है| धन्यवाद!

Monday, August 31, 2020

और क्या अहद-ए-वफ़ा होते हैं - aur kya ahad-e-vafa hote hain -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,

August 31, 2020 0 Comments

 और क्या अहद-ए-वफ़ा होते हैं

लोग मिलते हैं जुदा होते हैं


कब बिछड़ जाये हमसफ़र ही तो है

कब बदल जाये इक नज़र ही तो है

जान-ओ-दिल जिसपे फ़िदा होते हैं

और क्या अहद-ए-वफ़ा होते हैं ...


बात निकली थी इस ज़माने की

जिसको आदत है भूल जाने की

आप क्यों हमसे खफ़ा होते हैं

और क्या अहद-ए-वफ़ा होते हैं ...


जब रुला लेते हैं जी भर के हमें

जब सता लेते हैं जी भर के हमें

तब कहीं खुश वो ज़रा होते हैं

और क्या अहद-ए-वफ़ा होते हैं ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

हे, तुमने कभी किसी से प्यार किया - he, tumane kabhee kisee se pyaar kiya -#www.poemgazalshayari.in poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,

August 31, 2020 0 Comments

 हे, तुमने कभी किसी से प्यार किया?

    - किया!

कभी किसी को दिल दिया?

    - दिया!

मैं ने भी दिया


ला ल ला ला, ला ल ला ला

मेरी उमर के नौजवानों

दिल न लगाना ओ दीवानों

मैं ने, प्यार कर के चैन खोया, नींद खोयी

अरे झूठ तो कहते नहीं हैं

कहते नहीं हैं लोग कोई

प्यार से बढ़कर नहीं है

बढ़कर नहीं है रोग कोई

चलता नहीं है दिल दे के यारो, इस दिल पे जोर कोई

इस रोग का नहीं है इलाज दुनिया में और कोई

तो गाओ -

ओम शान्ति ओम, शान्ति शान्ति ओम

ओम शान्ति ओम, शान्ति शान्ति ओम


मैं ने किसी को दिल दे के कर ली

रातें खराब देखो

आया नहीं अभी तक उधर से

कोई जवाब देखो

वो न कहेंगी तो ख़ुद्कुशी सी कर जाऊँगा मैं यारो

वो हाँ कहेंगी तो भी खुशी से मर जाऊँगा मैं यारो

सिंग!

ओम शान्ति ओम, शान्ति शान्ति ओम

ओम शान्ति ओम, शान्ति शान्ति ओम


जो छुप गया है पहली नज़र का पहला सलाम लेकर

हर एक साँस लेता हूँ अब मैं उसका ही नाम लेकर

मेरे हज़ारो दीवानों मैं अब खुद बन गया दीवाना

जिस वक़्त प्यार तुमपे आ जाये तो ये गीत गाना

सिंग!

ओम शान्ति ओम, शान्ति शान्ति ओम

ओम शान्ति ओम, शान्ति शान्ति ओम


मेरी उमर के नौजवानों ...

ओम शान्ति ओम, शान्ति शान्ति ओम ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

जो गिर गया इस जहाँ की नज़र से - jo gir gaya is jahaan kee nazar se -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,

August 31, 2020 0 Comments

 जो गिर गया इस जहाँ की नज़र से

देखो उसे कभी इक माँ की नज़र से


ओ माँ तुझे सलाम

अपने बच्‍चे तुझको प्‍यारे रावण हो या राम


बच्‍चे तुझे सताते हैं, बरसों तुझे रूलाते हैं

दूध तो क्‍या अँसुअन की भी क़ीमत नहीं चुकाते हैं

हँसकर माफ़ तू कर देती है उनके दोष तमाम

ऐ माँ तुझे सलाम


ऐसा नटखट था घनश्‍याम, तंग था सारा गोकुलधाम

मगर यशोदा कहती थी, झूठे हैं ये लोग तमाम

मेरे लाल को करते हैं सारे यूँ ही बदनाम

ओ माँ तुझे सलाम


तेरा दिल तड़प उठा, जैसे तेरी जान गई

इतनी देर से रूठी थी, कितनी जल्‍दी मान गयी

अपने लाडले के मुँह से सुनते ही अपना नाम

ओ माँ तुझे सलाम


सात समंदर सा तेरा, इक इक आँसू होता है

कोई माँ जब रोती है, तो भगवान भी रोता है

प्‍यार ही प्‍यार है, दर्द ही दर्द है, ममता जिसका नाम


ओ माँ तुझे सलाम


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

एक बंजारा गाए, जीवन के गीत सुनाए - ek banjaara gae, jeevan ke geet sunae -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,

August 31, 2020 0 Comments

 एक बंजारा गाए, जीवन के गीत सुनाए

हम सब जीने वालों को जीने की राह बताए


ज़माने वालो किताब-ए-ग़म में

खुशी का कोई फ़साना ढूँढो

हो ओ ओ ओ ... आँखों में आँसू भी आए

वो आकर मुस्काए


सभी को देखो नहीं होता है

नसीबा रौशन सितारों जैसा

सयाना वो है जो पतझड़ में भी

सजा ले गुलशन बहारों जैसा

हो ओ ओ ओ ... कागज़ के फूलों को भी

जो महका कर दिखलाए


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

Monday, August 24, 2020

एक था गुल और एक थी बुलबुल - ek tha gul aur ek thee bulabul lyrics -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,

August 24, 2020 0 Comments

 एक था गुल और एक थी बुलबुल

एक था गुल और एक थी बुलबुल

दोनो चमन में रहते थे

है ये कहानी बिलकुल सच्ची

मेरे नाना कहते थे

एक था गुल और ...


बुलबुल कुछ ऐसे गाती थी

जैसे तुम बातें करती हो

वो गुल ऐसे शर्माता था

जैसे मैं घबरा जाता हूँ

बुलबुल को मालूम नही था

गुल ऐसे क्यों शरमाता था

वो क्या जाने उसका नगमा

गुल के दिल को धड़काता था

दिल के भेद ना आते लब पे

ये दिल में ही रहते थे

एक था गुल और ...


लेकिन आखिर दिल की बातें

ऐसे कितने दिन छुपती हैं

ये वो कलियां है जो इक दिन

बस काँटे बनके चुभती हैं

इक दिन जान लिया बुलबुल ने

वो गुल उसका दीवाना है

तुमको पसन्द आया हो तो बोलूं

फिर आगे जो अफ़साना है


इक दूजे का हो जाने पर

वो दोनो मजबूर हुए

उन दोनो के प्यार के किस्से

गुलशन में मशहूर हुए

साथ जियेंगे साथ मरेंगे

वो दोनो ये कहते थे

एक था गुल और ...


फिर इक दिन की बात सुनाऊं

इक सय्याद चमन में आया

ले गये वो बुलबुल को पकड़के

और दीवाना गुल मुरझाया

और दीवाना गुल मुरझाया

शायर लोग बयां करते हैं

ऐसे उनकी जुदाई की बातें

गाते थे ये गीत वो दोनो

सैयां बिना नही कटती रातें

सैयां बिना नही कटती रातें

मस्त बहारों का मौसम था

आँख से आंसू बहते थे

एक था गुल और ...


आती थी आवाज़ हमेशा

ये झिलमिल झिलमिल तारों से

जिसका नाम मुहब्बत है वो

कब रुकती है दीवारों से

इक दिन आह गुल-ओ-बुलबुल की

उस पिंजरे से जा टकराई

टूटा पिंजरा छूटा कैदी

देता रहा सय्याद दुहाई

रोक सके ना उसको मिलके

सारा ज़मान सारी खुदाई

गुल साजन को गीत सुनाने

बुलबुल बाग में वापस आए


याद सदा रखना ये कहानी

चाहे जीना चाहे मरना

तुम भी किसी से प्यार करो तो

प्यार गुल-ओ-बुलबुल सा करना

प्यार गुल-ओ-बुलबुल सा करना

प्यार गुल-ओ-बुलबुल सा करना

प्यार गुल-ओ-बुलबुल सा करना


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

Sunday, August 23, 2020

एक अजनबी, हसीना से, यूँ मुलाकात, हो गई - ek ajanabee, haseena se, yoon mulaakaat, ho gaee -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in

August 23, 2020 0 Comments

 एक अजनबी, हसीना से, यूँ मुलाकात, हो गई

फिर क्या हुआ, ये ना पूछो, कुछ ऐसी बात, हो गई

एक अजनबी ...


वो अचानक आ गई, यूँ नज़र के सामने

जैसे निकल आया घटा से चाँद

चेहरे पे ज़ुल्फ़ें, बिखरी हुई थीं

दिन में रात हो गई

एक अजनबी ...


जान-ए-मन जान-ए-जिगर, होता मैं शायर अगर

कहता ग़ज़ल तेरी अदाओं पर

मैं ने ये कहा तो, मुझसे ख़फ़ा वो

जान-ए-हयात हो गई

एक अजनबी ...


खूबसूरत बात ये, चार पल का साथ ये

सारी उमर मुझको रहेगा याद

मैं अकेला था मगर, बन गई वो हमसफ़र

वो मेरे साथ हो गई

एक अजनबी ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


poem, gazal, shayari, hindi kavita, love shayari, anand bakshi, lyrics, guljar, gulzar,


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

इस दुनिया में प्रेमग्रंथ जब लिखा जाएगा - is duniya mein premagranth jab likha jaega - - आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 23, 2020 0 Comments

 आ आ हो आ प्रेमग्रंथ

इस दुनिया में प्रेमग्रंथ जब लिखा जाएगा

तेरा मेरा हो तेरा मेरा हो तेरा मेरा नाम सबसे ऊपर आएगा

इस दुनिया में ...


बंद कली से फूल बनी मैं आज पिया ने अंग लगाया

गोरी के कोरे मुखड़े पर प्रेम ने अपना रंग लगाया

अब मैं सजनी तू मेरा साजन कहलाएगा

इस दुनिया में ...


एक अनोखी अनजानी सी मेरे मन में प्यास जगी है

बाहर है फूलों का मौसम दिल के अंदर आग लगी है

अपने प्यार का सावन अब ये आग बुझाएगा

इस दुनिया में ...


रोक सके तो रोक ले दुनिया रुकने वाली बात नहीं है

ये कोई तूफ़ान नहीं है ये कोई बरसात नहीं है

ये है प्यार का जादू ये जादू चल जाएगा

इस दुनिया में ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

Saturday, August 22, 2020

इश्क़ बिना क्या मरना यारो इश्क़ बिना क्या जीना - ishq bina kya marana yaaro ishq bina kya jeena -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 22, 2020 0 Comments

 इश्क़ बिना क्या मरना यारो इश्क़ बिना क्या जीना

गुड़ से मीठा इश्क़-इश्क़

इमली से खट्टा इश्क़

वादा ये पक्का इश्क़-इश्क़

धागा ये कच्चा इश्क़

इश्क़ बिना क्या जीना यारो इश्क़ बिना क्या मरना यारो


नीचे इश्क़ है ऊपर रब है इन दोनों के बीच में सब है

एक नहीं सब बातें कर लो सौ बातों का एक मतलब है

रब सबसे सोना इश्क़-इश्क़

रब से भी सोना इश्क़

हीरा ना पन्ना इश्क़-इश्क़

बस एक तमन्ना इश्क़-इश्क़


इश्क़ है क्या ये किसको पता ये इश्क़ है क्या सबको पता

ये प्रेम-नगर अंजान डगर साजन का घर क्या किसको ख़बर

छोटी सी उमर ये लम्बा सफ़र ये इश्क़ है क्या ये किसको पता

ये दर्द है या दर्दों की दवा ये कोई सनम या आप ख़ुदा

तुम ने इश्क़ का नाम सुना है हम ने इश्क़ किया है

फूलों का गुलशन इश्क़-इश्क़

काँटों का दामन इश्क़

इश्क़-इश्क़ इश्क़-इश्क़ इश्क़-इश्क़ इश्क़-इश्क़


किसी के इश्क़ के वादे कहीं हम तोड़ आये हैं

मगर ये दिल ये जाँ शायद वहीं हम छोड़ आये हैं

इश्क़ बिना इश्क़ बिना

इश्क़ बिना क्या जीना यारा इश्क़ बिना क्या मरना

इश्क़ बिना क्या जीना यारा इश्क़ बिना क्या मरना

इश्क़-इश्क़ इश्क़-इश्क़

गुड़ से मीठा

इमली से खट्टा

वादा ये पक्का

धागा ये कच्चा इश्क़

गुड़ से मीठा इश्क़

इमली से खट्टा इश्क़

वादा ये पक्का इश्क़

धागा ये कच्चा इश्क़


इस से पहले इस रस्ते में कितने ही महबूब गये हैं

रस्ते में दरिया है कोई

रस्ते में दरिया है कोई जिस में सारे डूब गये हैं

फल सब से सच्चा

हर झूठ से झूठा

वादा ये पक्का

धागा ये कच्चा


इश्क़ बिना मैं इश्क़ बिना इश्क़ बिना इश्क़ बिना

इश्क़ बिना क्या जीना यारो इश्क़ बिना क्या मरना यारो

इश्क़ बिना इश्क़ बिना इश्क़ बिना इश्क़ बिना

इश्क़ बिना क्या जीना यारो इश्क़ बिना क्या मरना यारो


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

बदरा हो बदरा छाए कि झूले पड़ गए हाय - badara ho badara chhae ki jhoole pad gae haay - - आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 22, 2020 0 Comments

 र : बदरा हो बदरा छाए कि झूले पड़ गए हाय

कि मेले लग गए मच गई धूम रे

कि आया सावन हो झूम के


ल : बदरा हो बदरा छाए कि झूमे पर्वत हाय

रे कजरारी बदरिया को चूम रे

कि आया सावन हो झूम के कि आया सावन झूम के

काहे सामने सबके बालमवा तू छेड़े जालमवा


र: काहे फेंके नज़र की डोरी तू लुक-छुप के गोरी


ल : कजरा हो कजरा हाय रे बैरी बिखरा जाए रे

मेरा कजरा कि मच गई धूम रे

कि आया सावन झूम ...


र : जाने किसको किसकी याद आई के चली पुरवाई


ल : जाने किस बिरहन का मन तरसा के पानी बरसा


र : कंगना हो कंगना लाए कि घर लौट के आए

परदेसी बिदेसवा से घूम के

कि आया सावन ...


ल : तेरे सेहरे की हैं ये लड़ियाँ कि सावन की झड़ियाँ


र : ये हैं मस्त घटाओँ की टोली कि तेरी है डोली


ल : धड़का जाए धड़का जाए रे मेरा मनवा हाय

साजनवा कि मच गई धूम रे


को : कि आया सावन ....


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आया आया अटरिया पे कोई चोर - aaya aaya atariya pe koee chor -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 22, 2020 0 Comments

 आया आया अटरिया पे कोई चोर

आया आया अटरिया पे कोई चोर

आया आया अटरिया पे कोई चोर

ओ भाभी आना ज़रा दीपक जलाना

ओ भाभी आना ज़रा दीपक जलाना

देखो बलम हैं या कोई और

डर गई मैं के मर गई मैं

के आया आया अटरिया पे कोई चोर

देखो बलम हैं या कोई और

डर गई मैं के मर गई मैं

के आया आया अटरिया पे कोई चोर


मन ऊपर नीचे, खिड़की के पीछे, अँखियों के नीछे

बैठी मैं सोचूँ साँवरी, फिर का करूँ मैं बावरी

बैरी बलम हो तो चुप रहूँ मैं

बैरी बलम हो तो चुप रहूँ मैं

दूजा कोई हो मचा दूँ मैं शोर

आया आया ...


धोखा खाया है, जी घबराया है, कोई आया है

नैनों में नैन जब गए, आंगन में कंगन बज गए

मैं नाची ऐसे, कठपुतली जैसे

ना जाने खेंची है किसने डोर

आया आया ...


सौ मतदारी, कारी कजरारी, सैंया मैं हारी

देता दिखाई कुछ नहीं, छुप ना गया हो वो कहीं

घर में छिपा तो जाएगा पकड़ा

घर में छिपा तो जाएगा पकड़ा

मन में छिपा तो फिर क्या है ज़ोर

आया आया ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आप का खत मिला आप का शुक्रिया - aap ka khat mila aap ka shukriya - - आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 22, 2020 0 Comments

 आप का खत मिला आप का शुक्रिया

आप ने याद मुझ को किया, शुक्रिया, शुक्रिया

आप का खत मिला, शुक्रिया, शुक्रिया

आप ने याद मुझ को किया, शुक्रिया, शुक्रिया


प्यार में याद करना ही काफ़ी नहीं

प्यार में याद करना ही काफ़ी नहीं

आप की भूल क़ाबिल-ए-माफ़ी नहीं

कि रूठ जायेंगे हम, फिर मनाना सनम

यूँ कटा आप बिन एक छोटा-सा दिन

जैसे इक साल था

दिल का वो हाल था

आप को क्या ख़बर, क्या है दर्द-ए-जिगर

बस फ़साना कोई, इक बहाना कोई

लिख के काग़ज़ पे भेज दिया

शुक्रिया, शुक्रिया


आप लिखते हैं मिलने की फ़ुर्सत नहीं

आप लिखते हैं मिलने की फ़ुर्सत नहीं

छोड़िये बेरुखी है ये उल्फ़त नहीं

हम को था इन्तज़ार दिल रहा बेक़रार

शाम तक हम रहे रास्ता देखते

थक गयी जब नज़र तब मिली ये ख़बर

आप आये नहीं

काम था कुछ कहीं

पर हमें ग़म नहीं

ये भी कुछ कम नहीं

दिल के बदले लिफ़ाफ़ा मिला

शुक्रिया, शुक्रिया


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आने से उसके आये बहार, जाने से उसके जाये बहार - aane se usake aaye bahaar, jaane se usake jaaye bahaar -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 22, 2020 0 Comments

 आने से उसके आये बहार, जाने से उसके जाये बहार

बड़ी मस्तानी है मेरी महबूबा

मेरी ज़िन्दगानी है मेरी महबूबा...


गुनगुनाए ऐसे जैसे बजते हों घुंघरू कहीं पे

आके पर्वतों से, जैसे गिरता हो झरना ज़मीं पे

झरनो की मौज है वो, मौजों की रवानी है मेरी महबूबा


इस घटा को मैं तो उसकी आँखों का काजल कहूँगा

इस हवा को मैं तो उसका लहराता आँचल कहूँगा

हूरों की मलिका है परियों की रानी है मेरी महबूबा


बीत जाते हैं दिन, कट जाती है आँखों में रातें

हम ना जाने क्या क्या करते रहते हैं आपस में बातें

मैं थोड़ा दीवाना, थोड़ी सी दीवानी है मेरी महबूबा


बन संवर के निकले आए सावन का जब जब महीना

हर कोई ये समझे होगी वो कोई चंचल हसीना

पूछो तो कौन है वो, रुत ये सुहानी है, मेरी महबूबा


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

Tuesday, August 11, 2020

आदमी मुसाफ़िर है आता है जाता है - aadamee musaafir hai aata hai jaata hai -

August 11, 2020 0 Comments

 आदमी मुसाफ़िर है आता है जाता है

आते-जाते रस्ते में यादें छोड़ जाता है


झोंका हवा का पानी का रेला

झोंका हवा का पानी का रेला

मेले में रह जाए जो अकेला

मेले में रह जाए जो अकेला

वो फिर अकेला ही रह जाता है

आदमी मुसाफ़िर है ...


क्या साथ लाए क्या छोड़ आए

रस्ते में हम क्या छोड़ आए

मंज़िल पे जा के ही याद आता है

आदमी मुसाफ़िर है ...


जब डोलती है जीवन की नैया

कोई तो बन जाता है खिवैया

कोई किनारे पे ही डूब जाता है

आदमी मुसाफ़िर है ...


रोती है आँख जलता है ये दिल

जब अपने घर के फेंके दिये से

आँगन पराया जगमगाता है

आदमी मुसाफ़िर है ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

कभी सोचता हूँ, कि मैं चुप रहूँ - kabhee sochata hoon, ki main chup rahoon -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 11, 2020 0 Comments

 कभी सोचता हूँ, कि मैं चुप रहूँ

कभी सोचता हूँ, कि मैं कुछ कहूँ


आदमी जो सुनता है, आदमी जो कहता है

ज़िंदगी भर वो सदाएँ पीछा करती हैं

आदमी जो देता है, आदमी जो करता है

रास्ते मे वो दुआएँ पीछा करती हैं


कोई भी हो हर ख़्वाब तो अच्छा नहीं होता

बहुत ज्यादा प्यार भी अच्छा नहीं होता है

कभी दामन छुड़ाना हो, तो मुश्किल हो

प्यार के रस्ते छूटे तो, प्यार के रिश्ते टूटे तो

ज़िंदगी भर फिर वफ़ाएँ पीछा करती हैं ...


कभी कभी मन धूप के कारण तरसता है

कभी कभी फिर दिल में, सावन बरसता है

प्यास कभी बुझती नहीं, इक बूँद भी मिलती नहीं

और कभी रिम झिम घटाएँ पीछा करती हैं ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आते जाते खूबसूरत आवारा सड़कों पे - aate jaate khoobasoorat aavaara sadakon pe -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 11, 2020 0 Comments

 आते जाते खूबसूरत आवारा सड़कों पे

कभी कभी इत्तेफ़ाक़ से

कितने अंजान लोग मिल जाते हैं

उन में से कुछ लोग भूल जाते हैं

कुछ याद रह जाते हैं


आवाज़ की दुनिया के दोस्तों

कल रात इसी जगह पे मुझको

किस क़दर ये हसीं ख़याल मिला है

राह में इक रेशमी रुमाल मिला है

जो गिराया था किसी ने जान कर

जिस का हो ले वो जाये पहचान कर

वरना मैं रख लूँगा उस को अपना जान कर

किसी हुस्न-वाले की निशानी मान कर, निशानी मान कर

हँसते गाते लोगों की बातें ही बातें में

कभी कभी इक मज़ाक से कितने जवान किस्से बन जाते हैं

उन किस्सों में चन्द भूल जाते हैं

चन्द याद रह जाते हैं

उन में से कुछ लोग ...


तक़दीर मुझ पे महरबान है

जिस शोख की ये दास्तान है

उस ने भी शायद ये पैग़ाम सुना हो

मेरे गीतों में अपना नाम सुना हो

दूर बैठी ये राज़ वो जान ले

मेरी आवाज़ को पहचान ले

काश फिर कल रात जैसी बरसात हो

और मेरी उस की कहीं मुलाक़ात हो

लम्बी लम्बी रातों में नींद नहीं जब आती

कभी कभी इस फ़िराक़ से कितने हसीं ख़्वाब बन जाते हैं

उन में से कुछ ख़्वाब भूल जाते हैं

कुछ याद रह जाते हैं

उन में से कुछ लोग ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आ जा तुझको पुकारें मेरे गीत रे, मेरे गीत रे - aa ja tujhako pukaaren mere geet re, mere geet re -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 11, 2020 0 Comments

 आ जा तुझको पुकारें मेरे गीत रे, मेरे गीत रे

ओ मेरे मितवा, मेरे मीत रे, आजा ...


नाम न जानूँ तेरा देश न जानूँ

कैसे मैं भेजूँ सन्देश न जानूँ

ये फूलों की ये झूलों की, रुत न जाये बीत रे

आजा तुझको ...


तरसेगी कब तक प्यासी नज़रिया

बरसेगी कब मेरे आँगन बदरिया

तोड़ के आजा छोड़ के आजा, दुनिया की हर रीत रे

आजा तुझको ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आज मौसम बड़ा बेईमान है - aaj mausam bada beeemaan hai -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 11, 2020 0 Comments

 आज मौसम बड़ा बेईमान है

बड़ा बेईमान है, आज मौसम

आने वाला कोई तूफ़ान है

कोई तूफ़ान है, आज मौसम


क्या हुआ है, हुआ कुछ नहीं है

बात क्या है पता कुछ नहीं है

मुझसे कोई ख़ता हो गई तो

इस में मेरी ख़ता कुछ नहीं है

ख़ूबसूरत है तू रुत जवान है

आज मौसम बड़ा बेईमान है


काली\-काली घटा दर रही है

ठंडी आहें हवा भर रही है

सबको क्या\-क्या गुमान हो रहे हैं

हर कली हम पे शक कर रही है

फूलों का दिल भी कुछ बदगुमान है


ऐ मेरे यार ऐ हुस्न वाले

दिल किया मैंने तेरे हवाले

तेरी मर्ज़ी पे अब बात ठहरी

जीने दे चाहे तू मार डाले

तेरे हाथों में अब मेरी जान है


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आज उनसे पहली मुलाक़ात होगी - aaj unase pahalee mulaaqaat hogee -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 11, 2020 0 Comments

 आज उनसे पहली मुलाक़ात होगी,

फिर आमने सामने बात होगी

फिर होगा क्या, क्या पता क्या खबर

फिर होगा क्या, क्या पता क्या खबर


अनदेखा अन्जाना मुखड़ा कैसा होगा

ना जाने वो चाँद का टुकड़ा कैसा होगा

अनदेखा अन्जाना मुखड़ा कैसा होगा

ना जाने वो चाँद का टुकड़ा कैसा होगा

मिलते ही उनसे हाय दिल में,

एक बेक़रारी सी दिन रात होगी

फिर होगा क्या ....


बैठें होंगे रास्ते पे वो आँखें बिछाये

हर आहट पे सोचते होंगे, साजन आये

बैठें होंगे रास्ते पे वो आँखें बिछाये

हर आहट पे सोचते होंगे, साजन आये

क्या हाल होगा, वहाँ कुछ ना पूछो

दिल में उमंगों कि बरात होगी

फिर होगा क्या ....


खुलके होंगी तन्हाई में दिल की बातें

प्यासे तनमन पे होंगी रिम-झिम बरसातें

खुलके होंगी तन्हाई में दिल की बातें

प्यासे तनमन पे होंगी रिम-झिम बरसातें

ऐ मेरे दिल ये भी तो सोच ले तू

कोई सहेली अगर साथ होगी

फिर होगा क्या....


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

आँखों-आँखों में हम-तुम हो गए दीवाने - aankhon-aankhon mein ham-tum ho gae deevaane -- आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 11, 2020 0 Comments

 किशोर:

आँखों-आँखों में हम-तुम हो गए दीवाने


आशा:

बातों-बातों में देखा बन गए अफ़साने


किशोर:

आँखों-आँखों ...

हम अजनबी थे तुम थे पराए

इक दूसरे के दिल में समाए

हम और तुम में उफ़ ये मोहब्बत कैसे हो गई

हम तुम जाने नहीं जाने


आशा:

बातों-बातों ...


किशोर:

कितनी हसीन ये तनहाइयाँ हैं


आशा:

तन्हाइयों में रुस्वाइयाँ हैं


किशोर:

रुसवाइयों से डरते नहीं हम


आशा:

छेड़ो प्यार की बातें


किशोर:

छोड़ो ये बहाने


दोनों:

आँखों-आँखों ...


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

Saturday, August 8, 2020

अब के सजन सावन में lyrics - ab ke sajan saavan mein lyrics - आनंद बख्शी- Anand Bakshi #www.poemgazalshayari.in #Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar

August 08, 2020 0 Comments

 अब के सजन सावन में

अब के सजन सावन में

आग लगेली बदन में

घटा बरसेगी नज़र तरसेगी मगर

मिल न सकेंगे दो मन एक ही आँगन में


अब के सजन सावन में


दो दिलों के बीच खड़ी कितनी दीवारें

कैसे सुनूँगी मैं पिया प्रेम की पुकारें

चोरी चुपके से तुम लाख करो जतन, सजन

मिल न सकेंगे दो मन एक ही आँगन में


अब के सजन सावन में


इतने बड़े घर में नहीं एक भी झरोंका

किस तरह हम देंगे भला दुनिया को धोका

रात भर जगाएगी ये मस्त मस्त पवन, सजन

मिल न सकेंगे दो मन एक कि आँगन में


अब के सजन सावन में


तेरे मेरे प्यार का ये साल बुरा होगा

जब बहार आएगी तो हाल बुरा होगा

कांटे लगाएगा ये फूलों भरा चमन, सजन

मिल न सकेंगे दो मन एक ही आँगन में


अब के सजन सावन में

आग लगेली बदन में


- आनंद बख्शी- Anand Bakshi


#www.poemgazalshayari.in


#Poem #Gazal #Shayari #Hindi Kavita #Shayari #Love shayari #Anand Bakshi #lyrics #guljar


Please Subscribe to our youtube channel


https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng

Most Popular 5 Free Web Camera for windows | free WebCam for windows | Free Camera

Most Popular 5 Free Web Camera for windows | Free WebCam for windows | Free Camera 1. Logitech Capture  लोगिस्टिक कैप्चर विंडोज के कुछ वेब क...