प्रिय पाठकों! हमारा उद्देश्य आपके लिए किसी भी पाठ्य को सरलतम रूप देकर प्रस्तुत करना है, हम इसको बेहतर बनाने पर कार्य कर रहे है, हम आपके धैर्य की प्रशंसा करते है| मुक्त ज्ञानकोष, वेब स्रोतों और उन सभी पाठ्य पुस्तकों का मैं धन्यवाद देना चाहता हूँ, जहाँ से जानकारी प्राप्त कर इस लेख को लिखने में सहायता हुई है | धन्यवाद!

Friday, September 18, 2020

बुतख़ाना नया है न ख़ुदाख़ाना नया है - butakhaana naya hai na khudaakhaana naya hai -नज़ीर बनारसी - Nazir Banarsi

 बुतख़ाना नया है न ख़ुदाख़ाना नया है

जज़्बा है अक़ीदत का जो रोज़ाना नया है


इक रंग पे रहता ही नहीं रंगे ज़माना

जब देखिए तब जल्वाए जानानां नया है


दम ले लो तमाज़त[3] की सताई हुई रूहो

पलक की घनी छाँव में ख़सख़ाना नया है


रहने दो अभी साया-ए-गेसू ही में इसको

मुमकिन है सँभल जाए ये दीवाना नया है


बेशीशा-ओ-पैमाना भी चल जाती है अक्सर

इक अपना टहलता हुआ मैख़ाना नया है


बुत कोई नया हो तो बता मुझको बरहमन

ये तो मुझे मालूम है बुतख़ाना नया है


जब थोड़ी-सी ले लीजिए, हो जाता है दिल साफ़

जब गर्द हटा दीजिए पैमाना नया है


काशी का मुसलमाँ है 'नज़ीर' उससे भी मिलिए

उसका भी एक अन्दाज़ फ़क़ीराना नया है



नज़ीर बनारसी - Nazir Banarsi


No comments:

Post a Comment

इंटरनेट क्या है? इंटरनेट पर लॉगिन क्यों किया जाता है? वेबसाइट क्या है| थर्ड पार्टी एक्सेस क्या है? फेसबुक के थर्ड पार्टी ऐप को कैसे हटाए?

 इंटरनेट क्या है?  इंटरनेट पर लॉगिन क्यों किया जाता है?   वेबसाइट क्या है|  थर्ड पार्टी एक्सेस क्या है? फेसबुक के थर्ड पार्टी ऐप को कैसे हटा...