प्रिय पाठकों! हमारा उद्देश्य आपके लिए किसी भी पाठ्य को सरलतम रूप देकर प्रस्तुत करना है, हम इसको बेहतर बनाने पर कार्य कर रहे है, हम आपके धैर्य की प्रशंसा करते है| मुक्त ज्ञानकोष, वेब स्रोतों और उन सभी पाठ्य पुस्तकों का मैं धन्यवाद देना चाहता हूँ, जहाँ से जानकारी प्राप्त कर इस लेख को लिखने में सहायता हुई है | धन्यवाद!

Thursday, June 25, 2020

दादाजी की गोदी चढ़कर, खूब मचा हूँ मैं हल्ला - daadaajee kee godee chadhakar, khoob macha hoon main halla -- उषा यादव- Usha Yadav #www.poemgazalshayari.in ||Poem|Gazal|Shaayari|Hindi Kavita|Shayari|Love||

दादाजी की गोदी चढ़कर,
खूब मचा हूँ मैं हल्ला।
लाड़ लड़ाते जाते हैं वे,
मुँह से कहते-‘बड़ा चिबिल्ला’।

दादा की रज़ाई में घुसकर,
रात बनाता हूँ घरबूला।
झूठ-मूठ का होता उसमें,
सोफ़ा अलमारी और झूला।

मम्मी की साड़ी उँगली पर,
रोज लपेटूँ, ज्यों हो छल्ला।
मम्मी कहती है तब हँसकर,
तू ही है मेरा दुमछल्ला।

- उषा यादव- Usha Yadav

#www.poemgazalshayari.in

||Poem|Gazal|Shaayari|Hindi Kavita|Shayari|Love||

Please Subscribe to our youtube channel

https://www.youtube.com/channel/UCdwBibOoeD8E-QbZQnlwpng/videos?view_as=subscriber

No comments:

Post a Comment

इंटरनेट क्या है? इंटरनेट पर लॉगिन क्यों किया जाता है? वेबसाइट क्या है| थर्ड पार्टी एक्सेस क्या है? फेसबुक के थर्ड पार्टी ऐप को कैसे हटाए?

 इंटरनेट क्या है?  इंटरनेट पर लॉगिन क्यों किया जाता है?   वेबसाइट क्या है|  थर्ड पार्टी एक्सेस क्या है? फेसबुक के थर्ड पार्टी ऐप को कैसे हटा...