प्रिय दोस्तों! हमारा उद्देश्य आपके लिए किसी भी पाठ्य को सरलतम रूप देकर प्रस्तुत करना है, हम इसको बेहतर बनाने पर कार्य कर रहे है, हम आपके धैर्य की प्रशंसा करते है| मुक्त ज्ञानकोष, वेब स्रोतों और उन सभी पाठ्य पुस्तकों का मैं धन्यवाद देना चाहता हूँ, जहाँ से जानकारी प्राप्त कर इस लेख को लिखने में सहायता हुई है | धन्यवाद!

Thursday, September 5, 2019

ये ज़ुबाँ हमसे सी नहीं जाती - ye zubaan hamase see nahin jaatee -- दुष्यंत कुमार - Dushyant Kumar

ये ज़ुबाँ हमसे सी नहीं जाती

ज़िन्दगी है कि जी नहीं जाती


इन सफ़ीलों में वो दरारे हैं

जिनमें बस कर नमी नहीं जाती


देखिए उस तरफ़ उजाला है

जिस तरफ़ रौशनी नहीं जाती


शाम कुछ पेड़ गिर गए वरना

बाम तक चाँदनी नहीं जाती


एक आदत-सी बन गई है तू

और आदत कभी नहीं जाती


मयकशो मय ज़रूर है लेकिन

इतनी कड़वी कि पी नहीं जाती


मुझको ईसा बना दिया तुमने

अब शिकायत भी की नहीं जाती

- दुष्यंत कुमार - Dushyant Kumar

No comments:

Post a Comment

कंप्यूटर क्या है? सबसे आसान शब्दों में बताएं?

कंप्यूटर क्या है? सबसे आसान शब्दों में बताएं?  कई इलेक्ट्रॉनिक समूहों को व्यवस्थित कर बनाया गया, पूरी तरह से इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है, जो सोफ्ट...